Breaking News
Home / World / न्यू जीलैंड गोलीबारी: ‘भारतीय मूल के 9 लोग लापता, 2 घायल’

न्यू जीलैंड गोलीबारी: ‘भारतीय मूल के 9 लोग लापता, 2 घायल’

न्यू जीलैंड के क्राइस्टचर्च शहर की 2 मस्जिदों में अंधाधुंध फायरिंग कर नरसंहार करने वाले दरिंदों में से मुख्य हमलावर की पहचान 28 वर्षीय ब्रेंटन टैरंट के रूप में हुई है। इस हमले में कम से कम 49 लोगों की मौत हुई है। मुख्य हमलावर ने हमले की फेसबुक पर लाइवस्ट्रीमिंग की थी।

Source : टाइम्स न्यूज नेटवर्क | Updated:

हाइलाइट्स

  • क्राइस्टचर्च की मस्जिदों में हुई गोलीबारी में भारतीय मूल के 9 लोगों के घायल होने की खबर
  • न्यू जीलैंड में भारतीय उच्चायोग ने जारी किए हेल्पलाइन नंबर, की जा रही पूरी मदद
  • पीएम मोदी, राहुल गांधी सहित सभी पार्टियों के नेताओं ने की हमले की निंदा
  • क्राइस्टचर्च शहर में 2 मस्जिदों पर मास शूटिंग में 49 की मौत, 4 लोग गिरफ्तार

वेलिंगटन/नई दिल्ली

 

न्यू जीलैंड के क्राइस्टचर्च की दो मस्जिदों में हुई गोलीबारी के बाद भारतीय नागरिकता वाले या भारतीय मूल के कम से कम नौ लोगों के लापता होने की खबरें हैं। गोलीबारी की इन घटनाओं में 49 लोग मारे गए हैं। अपुष्ट खबरों के मुताबिक, इस गोलीबारी में दो भारतीयों के घायल होने की भी खबर है।

अधिकारियों ने बताया कि किसी भी प्रकार की सहायता और जानकारी के लिए न्यू जीलैंड में भारतीय उच्चायोग ने 24×7 हेल्पलाइन नंबर जारी किए हैं। ये हेल्पलाइन नंबर 021803899 और 021850033 हैं। हमले में घायल हुए भारतीयों के परिवारवालों को न्यू जीलैंड के वीजा भी उपलब्ध कराए जा रहे हैं। आपको बता दें कि न्यूजीलैंड में तकरीबन दो लाख भारतीय और भारतीय मूल के लोग रहते हैं। भारतीय उच्चायोग के आंकड़ों के अनुसार इस देश में 30 हजार से अधिक भारतीय छात्र हैं।

भारतीय उच्चायुक्त संजीव कोहली ने ट्वीट किया, ‘कई सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, भारतीय नागरिकता/भारतीय मूल के नौ लोग लापता हैं। आधिकारिक पुष्टि का अभी भी इंतजार किया जा रहा है। मानवता के खिलाफ भारी अपराध। उनके परिवारों के लिए हमारी प्रार्थना।’ उन्होंने कहा, ‘क्राइस्टचर्च के उस समुदाय के सदस्यों के प्रति मेरी गहरी कृतज्ञता, जो आज के भयावह हमले के पीड़ितों के बारे में हमारे लिए जानकारी जुटाने के लिए लगातार काम कर रहे हैं। इस समर्पण और एकजुटता से बेहतर कोई दूसरा उदाहरण नहीं हो सकता।’

अभी तक कोई आधिकारिक बयान नहीं
हालांकि किसी भी अधिकारी ने इस मामले में आधिकारिक पुष्टि नहीं की है। न्यू जीलैंड में रहने वाले दो भारतीय मूल के लोगों के रिश्तेदारों ने कहा कि उन्हें उनके घायल होने की खबर मिली है। इनमें से अहमद इकबाल जहांगीर हैदराबाद के रहने वाले हैं और वह क्राइस्टचर्च में एक रेस्ट्रॉन्ट चलाते हैं। वहीं महबूब खोखर अहमदाबाद के रहने वाले हैं। जहांगीर के रिश्तेदार मोहम्मद अहमद जुबेर ने बताया कि उन्हें इस घटना की जानकारी न्यू जीलैंड में रहने वाले जहांगीर के एक दोस्त से मिली। वहीं 65 वर्षीय महबूब अहमदाबाद के जुहापुरा के रहने वाले हैं। महबूब गुजरात विद्युत बोर्ड के एक रिटायर्ड कर्मचारी हैं और वह दो महीने पहले अपनी पत्नी के साथ बेटे से मिलने न्यू जीलैंड गए थे। उनका बेटा इमरान क्राइस्टचर्च के फिलिपस्टाउन में रहता है।

जुहापुरा में रहने वाले महबूब के रिश्तेदार हाफिज ने हमारे सहयोगी समाचार पत्र टाइम्स ऑफ इंडिया से कहा, ‘इमरान ने बताया कि उनके पिता अल नूर मस्जिद में हुई गोलीबारी में घायल हो गए हैं।’ स्थानीय अधिकारी महबूब को हॉस्पिटल ले गए लेकिन वे परिवारवालों को उनकी हालत के बारे में कुछ नहीं बता रहे हैं। इमरान 2010 में उच्च शिक्षा के लिए न्यू जीलैंड गए थे और फिर पढ़ाई पूरी करने के बाद उन्होंने वहीं कूरियर और ट्रांसपोर्ट सर्विस कंपनी का सेटअप तैयार कर लिया था।

पीएम मोदी ने की हमले की निंदा
दूसरी ओर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने न्यूजीलैंड की अपनी समकक्ष जैसिंडा अर्डर्न को पत्र लिखकर क्राइस्टचर्च में इबादत के स्थान पर गोलीबारी में निर्दोष लोगों की मौत पर गहरी संवेदना एवं दुख प्रकट किया। प्रधानमंत्री ने जोर दिया कि विविधतापूर्ण एवं लोकतांत्रिक समाज में हिंसा के लिये कोई स्थान नहीं है। एक आधिकारिक वक्तव्य के अनुसार प्रधानमंत्री मोदी ने अपने पत्र में क्राइस्टचर्च हमले में मारे गए लोगों के प्रति गहरी संवेदना प्रकट की और घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की। मोदी ने इस कठिन घड़ी में न्यूजीलैंड के मित्रवत लोगों के प्रति पूरी एकजुटता व्यक्त की। प्रधानमंत्री ने जोर दिया कि भारत आतंकवाद के हर स्वरूप और ऐसे कार्यों का समर्थन देने वालों की कड़ी निंदा करता है।

उन्माद और नफरत से भरा चमरपंथ नहीं है दुनिया: राहुल
शुक्रवार देर रात विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने ट्वीट किया, ‘हम क्राइस्टचर्च में धर्मस्थलों पर हुए कायरतापूर्ण आतंकवादी हमले की कड़ी निंदा करते हैं। हमारी संवेदनाएं प्रियजनों को खोने वालों के साथ हैं। हमारी संवेदनाएं और प्रार्थनाएं पीड़ित परिवारों के साथ हैं।’ कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी इस हमले की निंदा की है। राहुल ने एक ट्वीट में कहा, ‘दुनिया करुणा और एक-दूसरे को समझने की जरूरत के साथ एक है। कोई उन्माद और नफरत से भरा चरमपंथ नहीं। पीड़ितों के परिजनों के प्रति मेरी संवेदनाएं। घटना में घायल लोगों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं।’ कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल ने भी हमले की निंदा करते हुए ट्वीट कर कहा, ‘न्यूजीलैंड में जो हुआ है वह मानवता के खिलाफ अपराध है। यह इसका द्योतक है कि घृणा से हर स्तर पर निपटा जाना चाहिए।’ उन्होंने कहा कि वह पीड़ित परिवारों के प्रति संवेदना प्रकट करते हैं।

हमले में गई 49 लोगों की जान
गौरतलब है कि न्यू जीलैंड के क्राइस्टचर्च शहर की 2 मस्जिदों में अंधाधुंध फायरिंग कर नरसंहार करने वाले दरिंदों में से मुख्य हमलावर की पहचान 28 वर्षीय ब्रेंटन टैरंट के रूप में हुई है। इस हमले में कम से कम 49 लोगों की मौत हुई है। मुख्य हमलावर ने हमले की फेसबुक पर लाइवस्ट्रीमिंग की थी। विडियो की शुरुआत में वह ‘चलो, पार्टी शुरू करते हैं’ कहते हुए सुनाई दे रहा है। उसे मिलाकर कुल 4 लोगों को गिरफ्तार किया गया है, जिसमें 1 महिला भी शामिल है। इतना ही नहीं, टैरंट ने गुरुवार रात को ही फेसबुक पर पोस्ट के जरिए अपनी मंशा जाहिर कर दी थी और लिखा था कि वह ‘आक्रमणकारियों’ पर हमला करेगा और उसे फेसबुक पर लाइव दिखाएगा।

About Site Default

Check Also

अब लंदन में खालिस्तानियों से भारतीयों पर कराया हमला

अपने विरोध से बौखलाए पाकिस्तान की आईएसआई ने खालिस्तान समर्थकों से हाथ मिला लिया है …

Leave a Reply

Your e-mail address will not be published. Required fields are marked *

Jordan Weal Womens Jersey